पेड़ पर कविता - Poem On Tree In Hindi

 पेड़ पर कविता - Poem On Tree In Hindi


आज की कविता पेड़ के लिए है। वृक्ष हमारे सबसे अच्छे मित्र होते है। इन्ही से हमे जीवन वायु, फल, फूल, औषधि और बहुत कुछ मिलता है। इस धरती की सुंदरता ही पेड़ो से है। इसलिए हमे अधिक से अधिक पेड़ लगाने चाहिए और पेड़ो को बचाना चाहिए। आज की यह पेड़ पर कविता - Poem On Tree In Hindi विद्यार्थी बच्चों और पाठकों के लिए है।

  पेड़ यह धरती का सिर्फ गहना ही नहीं बल्कि वरदान है जो इस प्रकृति को संभाले हुए है। मानवजाति, पशु - पक्षी, जीव - जंतु सभी इसी पर निर्भर है। लेकिन इसका नुकसान मानवजाति की वजह से ही हो रहा है और इसीलिए हमे मिलकर पेड़ो को बचाना है ताकि प्रकृति में संतुलन बना रहे। छोटे छोटे प्रयास मिलकर ही एक बहुत बड़ा बदलाव लाते है। हमे भी इसी प्रकार अपनी और से इस बदलाव में अपना योगदान देना है और पेड़ो को बचाना है। नए पेड़ लगाने है। अपने इस संकल्प को सभी लोगो तक पहुंचाना है। 


Ped Ki Kavita - 


पेड़ पर कविता - Poem On Tree In Hindi
Poem On Tree In Hindi


पेड़ बचेंगे तो धरती बचेगी
जीवन बचेगा कल बचेगा

पेड़ से ही तो वर्षा होगी
नदी बचेगी जल बचेगा

जब खेतों में होगा अनाज
थालियों में भोजन बचेगा

जीवन में होगी खुशहाली
जब धरती पर पेड़ बचेगा


पेड़ पर बाल कविता


Ped Bachenge To Dharti Bachegi
Jivan Bachega Kal Bachega

Ped Se Hi To Varsha Hogi
Nadi Bachegi Jal Bachega

Jab Kheton Mein Hoga Anaaj
Thaliyon Mein Bhojan Bachega

Jivan Mein Hogi Khushiyali
Jab DhartI Par Ped Bachega


Ped Hai Jivan Mein Upyogi - पेड़ पर कविताएं



पेड़ है जीवन में उपयोगी
धरती की सुरक्षा इन्हीं से होगी

पेड़ ही पंछियों का घर है
इसी पर मानवजाति निर्भर है

पेड़ है तो है पीने का पानी
इसी से आएगी वर्षा रानी

पेड़ कटने से कही सुखा आएगा
कही बाढ़ का पानी ना रुक पाएगा

पेड़ो से होगी छाया और नमी
फ़ल और फूल की ना होगी कमी


Ped Hai Jivan Mein Upyogi
Dharti Ki Suraksha Inhin Se Hogi

Ped Hi Panchiyon Ka Ghat Hai
Isi Par Manavjati Nirbhar Hai

Ped Hai To Hai Pine Ka Paani
Isi Se Aayegi Varsha RAni

Ped Katne Se Kahi Sukha Aayega
Kahi Baadh Ka Paani Naa Ruk Paayega

Pedo Se Hogi Chaaya Aur Nami
Phal Aur Phool Ki Na Hogi Kami

Mein Bhi Ped Lagaaunga


घर पे जल्दी जाना है
मम्मी को बताना है
पेड़ बहुत हीं प्यारे है
हमें भी पेड़ लगाना है

पापा काम से आएंगे
हम बाग़ में घूमने जाएंगे
टीचर की बात बताऊंगा
मैं भी पेड़ लगाऊंगा

बड़ा भैया खेलने जाएगा
धूप नहीं सह पाएगा
छांव में उन्हें बुलाऊंगा
उनसे भी पेड़ लगवाउंगा

जब मुन्नी झूला झूलेगी
पेड़ से आसमां छू लेगी
उसे पेड़ की बात बताऊंगा
मुन्नी से पेड़ लगवाऊंगा

जब दोस्त हम खेलने जाएंगे
नए पेड़ दोस्त हम बनाएंगे
सब को पेड़ के गुण बताएंगे
हम सब से पेड़ लगवाएंगे


Ghar Pe Jaldi Jaana Hai
Mummy Ko Bataana Hai
Ped Bahut Hi Pyare Hai
Hume Bhi Ped Lagana Hai

Papa Kaam Se Aayenge
Hum Baag Mein Ghumne Jaayenge
Teacher Ki Baat Bataaunga
Mein Bhi Ped Lagaaunga

Bada Bhaiya Khelne Jaayega
Dhoop Nahi Seh Paayega
Chaanv Mein Use Bulaaunga
Usse Bhi Ped Lagvaaunga

Jab Munni Jhula Jhulegi
Ped Se Aasmaan Chhu Legi
Use Ped Ki Baat Bataaunga
Munni Se Ped Lagvaaunga

Jab Dost Hum Khelne Jaayenge
Naye Ped Dost Banaayenge
Sab Ko Ped Ke Gun Bataayenge
Hum Sab Se Lagvaayenge


पेड़ो की दुनिया है न्यारी - पेड़ पर हिंदी कविता

पेड़ो की दुनिया है न्यारी
हरी भरी और प्यारी प्यारी
सुंदर फूल और मीठे फल देकर
हमारी दुनिया पेड़ो ने सवारी

देते है हमे यह पेड़ प्राणवायु
जिस से दुनिया में सब जीते है
पेड़ है जब तक हम निडर है
हरियाली और खुशहाली है

पेड़ो की जड़ों में पानी रुकता है
ना बाढ़ आती है न सुखा पड़ता है
वर्षा रानी भी मुस्काती है और
धरती पे बारिश आती है

बताओ कितने है पेड़ निराले
कुछ नही लेते पर जीवन देते 
क्यों नहीं इन्हे बचाया जाए
इस धरती को स्वर्ग बनाया जाए



Pedo Ki Duniya Hai Nyaari - Ped Par Hindi Kavita

Pedo Ki Duniya Hai Nyaari
Hari Bhari Aur Pyari Pyari
Sundar Phul  Aur Meethe Phal Dekar
Hamaari Duniya Pedo Ne Savaari

Dete Hai Humein Ped Praanvaayu
Jis Se Duniya Mein Sab Jeete Hai
Ped Hai Jab Tak Hum Nidar Hai
Hariyaali Aur Khushhaali Hai

Pedo Ki Jadon Mein Paani Rukta Hai
Naa Baadh Aati Hai Naa Sukha Padta Hai
Varsha Rani Bhi Muskati Hai Aur
Dharati Pe Baarish Aati Hai

Bataao Kitne Hai Ped Niraale
Kuch Nahin Lete Par Jivan Dete
Kyon Nahi Inhe Bachaaya Jaaye
Is Dharti Ko Swarg Banaaya Jaaye



 हमारी इस पोस्ट 'पेड़ पर कविता' या अन्य किसी भी पोस्ट पर जो भी रचनाएं है वह हमारी अपनी रचना है, अगर आप को किसी भी website पर यह रचनाएं मिलती है तो इस का यही अर्थ है की उन्हें यहां से copy किया गया है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ