Shayari Ishq Mohabbat Gila - Hindi Shayari

Shayari Ishq Mohabbat Gila - Hindi Shayari

इश्क मोहब्बत में तो दर्द भी है और सज़ा भी, अगर प्यार का एहसास हो जाए तो सज़ा में भी है एक मज़ा सी। यूं ही किसे दर्द पसंद होता है, पर प्यार की तो यही शर्त होती है ना, की जो भी इसके साथ मिलेगा उसे सहना ही होगा, फिर पछतावा कैसा? जो भी इस से गुज़र सकता है वही तो प्यार की मंजिल को पाता है। वरना सिर्फ चाहने से मिल जाए यह तो बस मुकादर की बात है। नसीब से प्यार मिल सकता है, लेकिन प्यार से नसीब नहीं मिलता यह भी एक सच ही है। 


Shayari Ishq Mohabbat Gila - Hindi Shayari


गिला भी तुझसे है बहुत,

मगर मोहब्बत भी..

वो बात अपनी जगह है,

यह बात अपनी जगह..


Gila Bhi Tujhse Hai Bahut,

Magar Mohabbat Bhi..

wo Baat Apni Jagah Hai,

Yah Baat Apni Jagah..


आजकल सब कहते है

मैं बुझी बुझी सी रहती हूं..

अगर जलती रहती

तो कब की ख़ाक ना हो जाती..


Aajkal Sab Kahte Hai 

Mein Bujhi Bujhi Si Rahti Hun..

Agar Jalti Rahti

To Kab Ki Khaak Na Ho jaati..


देखते ही देखते उनके तेवर चढ़ जाते है..

ज्यादा प्यार करने लगो तो भाव बढ़ जाते है..


Dekhte Hi Dekhte Unke Tevar Chaadh Jaate Hai..

Zyada Pyar Karne Lagi To Bhaav Badh Jaate Hai..


थोड़े से लफ्जों में 

बहुत सा प्यार लिखना है..

कभी दिल लिखना है

तो कभी यार लिखना है..


Thode Se Lafzon Mein 

Bahut Sa Pyar Likhna Hai..

Kabhi Dil Likhna Hai To 

Kabhi Yaar Likhna Hai..


देखते है हम दोनो 

कैसे जुदा हो पाएंगे..

तुम मुकद्दर का लिखा मानते हो

हम दुआ आजमाएंगे..


Dekhte Hai Hum Dono 

Kaise Juda Ho Payenge..

Tum Mukaddar Ka Likha Maante Ho

Hum Dua Aazmayenge..


Hindi Shayari Khwahishein


सौ ख्वाहिशें है मेरी और मेरी हर ख्वाहिश में तू है..

मैं इस कदर तेरी हूं के मेरा मैं होना मुश्किल है..


Sau Khwahishein Hai Meri 

Aur Meri Har

Khwahish Mein Tu Hai..

Mein Is Kadar Teri Hun  

Ke Meta Mein Hona Mushkil Hai..


Hindi Shayari Ehsaas


तुझे पाने की ख्वाहिश तो 

हम दिल से मिटा देंगे..

लेकिन, तेरा ही हो जाने का 

एहसास मिटाए तो कैसे..


Tujhe Paane Ki Khwahish To

Hum Dil Se Mita Denge..

Lekin, Tera Hi Ho Jaane Ka 

Ehsaas Mitaaye To Kaise..


कर्ज़ होता तो उतार भी देते..

कंबख्त इश्क था चढ़ा रहा..


Karz hota To Utaar Bhi Dete..

Kambhakht Ishq Tha Chadha Raha..


Hindi Shayari Behisaab Mohabbat


सुनो, तुम कर लो नजरंदाज 

अपने हिसाब से..

मोहब्बत हम भी तुम से 

बेहिसाब करेंगे..


Suno, Tum Kar Lo Nazarandaaz

Apne Hisaab Se..

Mohabbat hum Bhi Tum Se

Behisaab Karenge..


चाहे तुम जितने भी दूर रहो


चाहे तुम जितने भी दूर रहो

तुम्हारे लिए मेरे जज़्बात ना बदलेंगे

बदलेंगे मौसम हर साल हर महीने

तुम्हारे लिए मेरे खयालात ना बदलेंगे


Chaahe Tum Jitne Bhi Door Raho

Tumhaare Liye Mere Jazbaat Naa Badlenge

Badlenge Mausam Har Saal Har Mahine

Tumhaare Liye Mere Khayaalat Naa Badlenge


और होंगे कई जो इश्क में जान देते है

हम तुम्हें पूरी जिंदगी का इंतजार देंगे

जब भी पुकारोंगे मिलेंगे तुम्हे आसपास

हम तुम से न बिछड़ने का एहसास देंगे


Aur Honge Jai Ho Ishq Mein Jaan Dete Hai

Hum Tumhein Puri Zindagi Ka Intezar Denge

Jab Bhi Pukaaronge Milenge Tumhein Aaspaas

Hum Tum Se Naa Bichadne Ka Ehsaas Denge


Watch Our These Shayari In A Video 

एक टिप्पणी भेजें

1 टिप्पणियाँ